Wednesday, March 25, 2015

love shayari in hindi

बहते अश्को की जुबान नही होती|
लब्जो मे मुहब्बत बयान नही होती|
मिल जाये प्यार तो कुबूल करना|
किस्मत हर किसी पे मेहरबान नही होती|

No comments:

Post a Comment